Mar 12, 2014

अंगोला के द्वारा अपने देश में इस्लाम पर प्रतिबन्ध

Posted at  9:47 PM - by Admin 0


  अंगोला के द्वारा अपने देश में इस्लाम पर प्रतिबन्ध लगाये जाने के खिलाफ मैंने देखा की कुछ भारतीय मुस्लिम पत्रकार इस पर बहुत ही कड़ी प्रतिक्रिया दे रहे है और अंगोला को जमकर कोस करे है...  जो भी मुस्लीम इस प्रतिबन्ध को धार्मिक स्वतंत्रता का उल्लंघन समजते है और साथ में ही साउदी अरब जैसे देशो को अपना गुरु मानते है, उन्हें याद होना चाहिए कि सऊदी अरब में इस्लाम के अलावा सभी अन्य धर्मो पे कई दशको से प्रतिबन्ध है। यदि कोई व्यक्ति साउदी अरब कि फलाइट में क्रॉस या भगवान् कि मूर्ति या तस्वीर या कोई धार्मिक किताब ले जाता है तो वह जब्त कर ली जाती है। 



यदि कोई गैर-मुस्लीम (अपने घर में भी) अपने धर्म कि पूजा करता है तो वहाँ कि पुलिस को अधिकार है कि घर पे छापा मार कर पूजा सामग्री को नष्ट कर के सब को गिरफ्तार कर सके | यदि कोई गैर-मुस्लीम अपने धर्म का प्रचार करता है तो उसे सीधे जेल ही हो जाती है | साउदी अरब में एक भी मंदिर, मठ, गुरुद्वारा या चर्च नहीं है | यदि आप एंगोला के इस कदम को धार्मिक स्वतंत्रता का उल्लंघन मानते हुए उसकी आलोचना करते है, तो साथ-साथ आपको सऊदी अरब कि भी आलोचना करनी पड़ेगी -






दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले देश के हरएक व्यक्ति कि सारी सरकारी सुविधा बंद होनी चाहिए और चुनाव लड़ने पर रॉक एवं राजनीतीक पार्टी से बहार कर देना चाहिए।  दो बच्चो का कानून सख्ती से लागू होना चाहिए!  


About the Author

Write admin description here..

0 comments:

Contact Us

Name

Email *

Message *

Google+ Followers

Followers

WP Theme-junkie converted by Blogger template